पांच बार से सांसद रहे योगी आदित्यनाथ का इस्तीफा

0
83
लगभग चार महीने पहले उप्र के मुख्यमंत्री बने योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को दिल्ली में उपराष्ट्रपति चुनाव में मतदान करने के बाद लोकसभा सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। वह गोरखपुर संसदीय क्षेत्र से लगातार पांच बार से सांसद रहे।
उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को इस्तीफ सौंप दिया। योगी आदित्यनाथ अब उप्र विधान परिषद की सदस्यता ले सकते हैं। बसपा के एक और सपा के तीन सदस्यों ने हाल ही में विधान परिषद से इस्तीफा दिया है। माना जा रहा है कि योगी आदित्यनाथ के साथ उनके दोनों उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा और केशव प्रसाद मौर्य इन रिक्त स्थानों के लिए चुने जा सकते हैं।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नवनिर्वाचित उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू को बधाई दी है। योगी ने कहा कि उपराष्ट्रपति जैसे महत्वपूर्ण संवैधानिक पद पर वेंकैया का निर्वाचन समाज के सभी वर्गो खासकर किसानों के लिए गौरवपूर्ण है। वेंकैया को सार्वजनिक जीवन का लंबा अनुभव है।
अब तक उनको जो भी पद मिला है उसका उन्होंने सफलता पूर्वक निर्वहन किया है। ऐसे व्यक्ति को उपराष्ट्रपति पद के लिए अवसर देकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और संसदीय दल ने सकारात्मक सोच का परिचय दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here